ई-उपार्जन | MP E Uparjan 2021 , किसान ऑनलाइन पंजीयन,mpeuparjan.nic.in Portal

ई-उपार्जन | किसान ऑनलाइन पंजीयन | MP E Uparjan Online Apply | mpeuparjan.nic.in Portal | एमपी ई उपार्जन किसान पंजीकरण

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं सरकार द्वारा सन 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने एमपी ई उपार्जन पोर्टल आरंभ किया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से MP E Uparjan 2021 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि एमपी ई उपार्जन पोर्टल क्या है?, इसका उद्देश्य, लाभ, आवेदन प्रक्रिया, हेल्पलाइन नंबर आदि। तो दोस्तों यदि आप ई उपार्जन पोर्टल से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

एमपी ई उपार्जन पोर्टल 2021 । mp euparjan Portal

MP E Uparjan 2021 के किसानों के लिए आरंभ किया गया है। जिसके माध्यम से राज्य सरकार मध्यप्रदेश के जो किसान खरीफ सीजन के दौरान समर्थन मूल्य पर फसल सरकार को बेचना चाहते हैं उनके लिए इस पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया आरंभ हो गई है। राज्य के वह सभी इच्छुक किसान जो सरकार द्वारा तय समर्थन मूल्य पर अपनी फसल बेचना चाहते हैं उन्हें इस पोर्टल पर पंजीकरण करवाना होगा।

एमपी ई उपार्जन कवरेज प्लैन्ड । mpeuparjan

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा एमपी ई उपार्जन के अंतर्गत पूरे मध्यप्रदेश को कवर करने की योजना बनाई गई है। इसके लिए मध्य प्रदेश के प्रत्येक जिले की अनाज, गेहूं और धान की मॉनिटरिंग की गई है। मॉनिटरिंग में यह पाया गया है कि मध्य प्रदेश में गेहूं खरीद प्रणाली में 2830 खरीद केंद्र हैं, 708 रनर एवं 2830 डाटा एंट्री ऑपरेटर हैं तथा 12834 किसान अपनी गेहूं की फसल प्रतिदिन बेचते हैं। इस मॉनिटरिंग में यह भी पाया गया को मध्य प्रदेश में धान खरीद प्रणाली में 795 खरीद केंद्र हैं, 199 रनर्स एवं 795 डाटा एंट्री ऑपरेटर हैं एवं 4250 किसान प्रतिदिन अपनी फसल बेचते हैं।

ई उपार्जन पोर्टल किसान ऑनलाइन पंजीयन । mpeuparjan portal

आपको बता दें कि जैसे कि पिछली बार एमपी ई उपार्जन पोर्टल ( mpeuparjan portal ) पर पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन की गई थी। इस बार भी पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन ही की जाएगी। लेकिन इस बार पंजीकरण प्रक्रिया में कुछ बदलाव आए हैं। पिछले वर्ष एमपी ई उपार्जन ऑनलाइन पंजीकरण केवल कृषि उपज मंडी के माध्यम से होता था जिसकी वजह से बहुत से किसानों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। लेकिन इस वर्ष मध्य प्रदेश सरकार ने सभी किसानों को घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से इस ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा उपलब्ध करा दी है।

Key Highlights Of MP E Uparjan 2021

योजना का नामएमपी ई उपार्जन
किसने शुरू कीमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीमध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्यसमर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए आवेदन करना
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2021

MP E Uparjan 2021 का उद्देश्य

पिछले वर्ष कृषि मंडी के दौरान जो ऑनलाइन प्रक्रिया की गई थी उसकी वजह से मध्यप्रदेश में किसानों को बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था और काफी सारे किसान ऐसे भी थे जो पंजीकरण नहीं कर पाए थे। जिसकी वजह से उन्हें समर्थन मूल्य से कम मूल्य पर अपनी फसल बेचने पड़ी थी। इस वजह से किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ा था। किसानों की इस समस्या को समझते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने इस बार एमपी ई उपार्जन पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है। इस वर्ष राज्य के किसान ई-उपार्जन के लिए सार्वजनिक डोमेन में ई प्रोक्योरमेंट पोर्टल पंजीकरण केंद्रों में अपना पंजीकरण करा सकेंगे। जिससे कि उनके समय और पैसे दोनों की बचत होगी।

एमपी ई उपार्जन उपलब्ध सेवाएं

स्टेट यूजर

मुख्यमंत्री कार्यालयमुख्य सचिव कार्यालय
खाद्य मंत्रीमध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कॉरपोरेशन (वित्त)
मुख्य सचिव कार्यालयसंचालक कृषि
कृषि उत्पादन आयुक्तआयुक्त भू अभिलेख
प्रमुख सचिव कोऑपरेटिवनाफेड
प्रमुख सचिव कृषिअपेक्स बैंक
प्रमुख सचिव खाद्यमंडी बोर्ड
प्रमुख सचिव वित्तमध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ
प्रमुख सचिव राजस्वमध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ (वित्त)
सचिव खाद्यभारतीय खाद्य निगम
आयुक्त खादमध्य प्रदेश वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन
कपासपब्लिक रिलेशन
रजिस्ट्रार कोऑपरेटिव सोसायटी 
मध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कॉरपोरेश 

डिस्ट्रिक्ट यूजर

आयुक्त संभागडीआर को –ऑपरेटिव
कलेक्टरप्रबंधक भारतीय खाद्य निगम
एसडीएमसिंचाई विभाग
एसडीओ फॉरेस्टजिला केंद्रीय सहकारी बैंक
रीजनल मैनेजर (एम पी एस सी सी)कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक
जोनल मैनेजर मार्कफेडडीआईओ
जिला मैनेजर (एम पी एस सी सी)सीईओ जिला पंचायत
डीएमओ (मार्कफेड)उप संचालक कृषि
प्रबंधक (एमपीडब्ल्यूएलसी)प्रबंधक नाफेड
डीएसओ 

अदर यूजर

पंजीयन केंद्रएडमिनिस्ट्रेटर
पंजीयन केंद्र किओस्कडाटा क्लीनिंग
तोल काटा विभागकॉल सेंटर
समितिजिला केंद्रीय सहकारी ब्रांच
तहसीलदारएसबीआई बैंक खाता सत्यापन

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2021 के लाभ तथा विशेषताएं

  • इस पोर्टल पर राज्य के लोग घर बैठे अपने कंप्यूटर या मोबाइल के माध्यम से आसानी से ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते है।
  • इस योजना का लाभ राज्य के सभी किसान भाई उठा सकते है ।
  • राज्य के किसान मोबाइल ऐप डाउनलोड करके भी इस योजना का लाभ उठा सकते है ।
  • मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2021 के माध्यम से किसानो को पंजीकरण करने में कोई परेशानियों नहीं होंगी ।
  • ऑनलाइन पोर्टल के शुरू होने से लोगो के समय की भी बचत होगी ।
  • न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर गेहूं बेचने के लिए किसान को इस बार वह तीन तारीखें भी बतानी होगी, जिनमें अनाज लेकर वह खरीदी केन्द्र पर आएगा।

किसान पंजीयन कैसे निकाले

मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल 2021 पंजीकरण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश

मध्य प्रदेश के जो किसान भाई इस ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते है तो उन्हें कुछ बातो पर ध्यान देना होगा जो हमने नीचे दिए दिए हुए है ।

  • इस वर्ष मध्य प्रदेश की सभी किसान अपने आधार कार्ड नंबर और समग्र आईडी के माध्यम से पंजीकरण कर सकते है ।
  • यदि आपके पास समग्र आईडी नहीं है तो आप MP E Uparjan Portal पर पंजीकरण नहीं कर सकते उसके लिए आपको पहले समग्र आईडी के लिए आवेदन करना  होगा ।
  • पंजीयन के लिए आधार अथवा समग्र आई डी का होना अनिवार्य है।
  • आवेदक द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन  करने समय अपने द्वारा दर्ज की गई बैंक खाता जानकारी की जांच करनी चाहिए।
  • मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल 2021 पर रजिस्ट्रेशन के लिए मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है। इस पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए, आपका मोबाइल नंबर आधार से जुड़ा होना चाहिए।
  • पंजीकरण के बाद आपको एक रसीद दी जाएगी इसको आपको संभाल कर रखनी होगी । पंजीयन के पश्चात्, पावती प्रिंट करें तथा खरीदी के समय पावती ले जाना अनिवार्य है।

एमपी ई उपार्जन 2021 पंजीकरण के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक की  समग्र आईडी
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • ऋणपुस्तिका
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

एमपी ई उपार्जन प्रोसेस

एमपी ई उपार्जन के अंतर्गत 6 स्टेप हैं। इन 6 स्टेप में किसान द्वारा माल खरीदने, बेचने और परिवहन आदि शामिल किए गए हैं। यह 6 स्टेप कुछ इस प्रकार हैं:–

  • सर्वप्रथम किसान को खरीद केंद्र पर जाना होगा। खरीद केंद्र पर जाकर किसान को अपना पंजीकरण करवाना होगा।
  • पंजीकरण के उपरांत किसान को एक रजिस्ट्रेशन कोड प्रदान कर दिया जाएगा।
  • इसके पश्चात किसान को गेहूं की खरीद की तिथि की जानकारी प्रदान करने के लिए एसएमएस भेजा जाएगा।
  • अब किसान को खरीद केंद्र पर एसएमएस के माध्यम से दी गई तिथि पर जाना होगा।
  • उसके पश्चात किसान से गेहूं की खरीद कर ली जाएगी और इस खरीद के प्रमाण के तौर पर एक रिसिप्ट प्रदान की जाएगी।
  • इसके पश्चात किसान के खाते में गेहूं खरीद की राशि वितरित की जाएगी।

MP E Uparjan 2021 पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

यदि आप एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते हैं तो आपको नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करना होगा।

सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट ( mpeuparjan.nic.in ) पर जाना होगा।

  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको रबी 2021 -2022 का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको किसान पंजीयन /आवेदन सर्च का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म दिखाई देगा आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे किसान का नाम ,मोबाइल नंबर ,समग्र आईडी आदि सभी जानकारी भरनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप की आवेदन प्रक्रिया सफलतापूर्वक हो जाएगी।

एमपी ई उपार्जन आवेदन स्थिति जानने की प्रक्रिया

  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको एप्लीकेशन नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आपकी आवेदन स्थिति आप की कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

पंजीयन केंद लॉग इन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अदर यूजर के अंतर्गत पंजीयन केंद्र के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको जिला, पंजीयन केंद्र, ऑपरेटर, ओटीपी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पंजीयन केंद्र लॉगइन कर पाएंगे।

MP E Uparjan 2021 मोबाइल ऍप डाउनलोड कैसे करे ?

  • सबसे पहले आपको मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा । उसके बाद आपको यहाँ  “mp e uparjan” लिखकर सर्च करना है।
  • इसके बाद आपको उच्चतम मूल्यांकित ऐप डाउनलोड और इंस्टॉल करना होगा।
  • इस प्रकार इस मोबाइल एप की मदद से आप खरीफ सहित अन्य सभी फसलों के लिए पंजीकरण करके लाभ प्राप्त कर सकेंगे।
  • आप ई उपार्जन पोर्टल पर जाकर भी अपना मोबाइल नंबर और समग्र  आईडी नंबर डालकर मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए लिंक प्राप्त कर सकते हैं।

किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा कैसे जोड़े ?

  • आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर एक फॉर्म खुलकर आ जायेगा। इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे किसान की व्यक्तिगत जानकारी ,मोबाइल नंबर ,किसान का नाम ,समग्र सदस्य आईडी , किसान की बैंक सम्बन्धी जानकारी आदि भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा। इस तरह किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा जुड़ जायेगा।

पावती पर्ची प्राप्त कैसे करे ?

  • सर्वप्रथम आपको ई उपार्जन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको खरीफ 2020 -21 का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • फिर आपको खरीफ़ उपार्जन वर्ष 2020-21 हेतु किसान पंजीयन आवेदन का लिंक दिखाई देगा। आपको लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त करे का लिंक दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुलकर आ जायेगा। इस पेज पर आपको फॉर्म दिखाई देगा जिसमे आपको पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी।
  •  सभी जानकारी भरने के बाद किसान सर्च करे के बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त हो जाएगी आप इसे प्रिंट भी कर सकते है।

तहसीलदार लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको तहसीलदार के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको जिला तथा तहसील का चयन करना होगा।
  • अब आपको पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप तहसीलदार लॉगिन कर पाएंगे।

प्रबंधक नाफेड लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको डिस्ट्रिक्ट यूजर के अंतर्गत प्रबंधक नाफेड के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • अब आपका अपना पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप प्रबंधक नाफेड लॉगिन कर पाएंगे।

उप संचालक कृषि लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपना पासवर्ड एवं कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप उप संचालक कृषि लॉगिन कर पाएंगे।

सीईओ जिला पंचायत लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको डिस्ट्रिक्ट यूजर के अंतर्गत सीईओ जिला पंचायत के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सीईओ जिला पंचायत लॉगिन कर पाएंगे।

डीआईओ लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको डीआईओ के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपना पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगइन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप डी आई ओ लॉगिन कर पाएंगे।

सहायता प्राप्त कैसे करे ?

इस ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन  करने में कोई परेशानी हो रही है तथा आप किसी तरह की सहायता प्राप्त करना चाहते है तो आप सहायता के लिए euparjanmp@gmail.com संपर्क कर सकते है और अपने समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते है।

MP E Uparjan 2021 – 22 App , ई-उपार्जन मोबाइल एप डाउनलोड कैसे करे?

  1. ई-उपार्जन मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए mpeuparjan.nic.in पर क्लिक करे।
  2. क्लिक करने के बाद App डाउनलोड के लिए ऑप्शन दिखाई देगा।
  3. उस ऑप्शन पर क्लिक करे।
  4. उसके बाद कुछ समय इंतजार करे और आपका App डाउनलोड कम्पलीट हो जायेगा।
  5. उसके बाद आप app को इनस्टॉल करले।

MP E Uparjan App 2021 -22 को इनस्टॉल कैसे करे?

  1. Mobile App इनस्टॉल करने के लिए सबसे पहले अपने फ़ोन में फाइल मैनेजर में जाए।
  2. फाइल मैनेजर में आपको डाउनलोड फोल्डर का होगा उस पर क्लिक करे।
  3. डाउनलोड फोल्डर में eUparjan apk पर क्लिक करे।
  4. eUparjan apk file के ऑप्शन करने के बाद इनस्टॉल का ऑप्शन मिलेगा उस पर क्लिक करदे।
  5. क्लिक करने के बाद कुछ क्षण बाद इनस्टॉल कम्पलीट हो जायेगा।
  6. इनस्टॉल कम्पलीट होने के बाद आप अपने फ़ोन में app को ओपन कर सकते हैं।

Important Links

FAQ

किसान का पंजीयन SMS से कैसे देखा जाता है?

संदेश बॉक्स में टाइप के लिए प्रारूप है – “किसान GOV REG < नाम > , <राज्य का नाम>, <जिला का नाम>, <ब्लॉक का नाम >” (राज्य, जिला और ब्लॉक के नाम के केवल पहले 3 वर्णों की आवश्यकता होती है)
संदेश लिखने के बाद 51969 या 7738299899 पर भेज दें

किसान पंजीयन कैसे निकाले 2021 22?

यदि आप सफलतापूर्वक पंजीयन कर चुके हैं और किसान कोड के माध्यम से देखना चाहते है तो सबसे पहले आपको एमपी ई-उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
आपके सामने पोर्टल का होम पेज खुल जाएगा, यहाँ आपको रबी 2021-22 विकल्प का चयन करना है।

Leave a Comment