रेडमी कंपनी की सफलता की कहानी – Success Story of Redmi in Hindi

नमस्कार दोस्तों, मैं आपसे हमेशा बिज़नेस आईडिया के बारेमे बात करता हु। मैं आपको नए बिज़नेस के बारेमे जानकारी देता हु और आपको बिज़नेस करने के लिए मोटीवेट करने के लिए ये सफलता की कहानी लेकर आता हु। इससे आपको ये फायदा होगा की आपको समज आएगा की छोटी सुरुवात से भी हम बड़ा बिज़नेस कर सालते है।

आज हम इस सफलता की कहानी में जानने वाले है रेडमी कंपनी के बारेमे। इस कंपनी को लोग xiaomi या redmi इस नाम से जानते है। इस कंपनी को आज हर कोई जानता है पर इस कंपनी के सुरुवाती दिन इतने अच्छे नहीं थे। इस कंपनी को इस मुकाम तक पोहचने के लिए लगभग ६ साल लगे है। इस कंपनी की सुरुवात एक छोटे से ऑफिस से हुई थी।

रेडमी कंपनी की सफलता की कहानी

रेडमी कंपनी की सुरुवात कैसे हुई

इस कंपनी की सुरुवात सबसे पहले हुई थी चीन में। इस कंपनी को शुरू करने सबसे बड़ा मोटिव ये था की टेक्नोलॉजी को कम किंमत में देना। ये कंपनी २०१०-११ के आसपास चीन में शुरू हुई। उस टाइम पर मोबाइल फ़ोन काफी महंगे हुआ करते थे। इस प्रॉब्लम को सोल्व करने के लिए रेडमी ने अपने कम किंमत के फ़ोन लांच किये। इस कंपनी ने शुरू में सॉफ्टवेयर बनाने से शुरू की थी पर बाद में इन्हे लगा की हम सॉफ्टवेयर बना रहे है तो अब हम हार्डवेयर भी बनाना शुरू करते है। इस कंपनी के फाउंडर है Lei Jun इन्होने ही Xiaomi का बिज़नेस चीन में शुरू किया था।

Xiaomi कंपनी की भारत में कैसे सुरुवात हुई

इस कंपनी का इंडिया में बिज़नेस शुरू होने की बड़ी इंट्रेस्टिंग कहानी है। Xiaomi के इंडिया CEO मनु कुमार जैन जी ये 2015 के आसपास चीन गए थे उस टाइम मनु जैन जी Jabong कंपनी के फाउंडर थे। इन्होने एक बार शेयर किया था की jabong पर कपडे ये सब बेचा करते थे। उस टाइम लोग इनके वेबसाइट पर मोबाइल से आया करते थे। उस टाइम मोबाइल फ़ोन काफी महंगे और इतने अच्छे नहीं हुआ करते थे। मनु जैन जी का मोबाइल में भी काफी इंट्रेस्ट था।

उनको उस टाइम जब वह चीन गए थे उन्हें ये पता चला की कोई Xiaomi नामकी कंपनी है। जो कम किंमत में फ़ोन बनाती है तो वह बस यैसे ही Xiaomi के फाउंडर्स को मिलने गए। उनकी थोड़ी बातचीत हुई और इन्होने कहा की मेरा मोबाइल ,में इंट्रेस्ट है। उस टाइम Xiaomi का भी प्लान था की वह भारत में अपने मोबाइल को लॉच करे उस टाइम Xiaomi के फ़ोन भारत में लांच नहीं हुए थे। उसी समय Xiaomi फाउंडर्स ने मनु जैन जी को अप्प्रोच किया की क्या आप हमारा बिज़नेस इंडिया शुरू कर सकते है। इसके बाद कुछ समय में ही Xiaomi का बिज़नेस इंडिया में शुरू हुआ।

उस टाइम मोबाइल भारत में काफी महंगे हुआ करते थे। Xiaomi का बिज़नेस मॉडल सिंपल था हम मोबाइल को ऑनलाइन बेचेंगे। ऑफलाइन में मोबाइल बेचने से मोबाइल की कॉस्ट बढ़ती है। हम इस किंमत को कम करके मोबाइल को सस्ता बेचेंगे। उस टाइम पर भारत में ३०० से ज्यादा कंपनी हुआ करती थी। जो ऑफलाइन मार्किट में फ़ोन बेचा करती थी। एक बार मनु जैन जी ने कहा था की जब हमने इस बिज़नेस को शुरू किया तब हमे लगता था की क्या कोई मोबाइल ऑनलाइन खरीदने आएगा। लोग मोबाइल को ऑफलाइन देख कर खरीदना पसंद करते है। शुरू में जब उन्होंने अपना पहला मोबाइल भारत में लांच करना था।

तब उन्होंने फ्लिपकार्ट पर बेचने का फैसला किया पर उन्हें ये पता नहीं था। उस समय Xiaomi के फेसबुक पेज पर १० हज़ार फोल्लोवेर्स हुआ करते थे। तो उन्हें लगा की हम १० हज़ार मोबाइल लाते है ये १० हज़ार लोग अपना मोबाइल खरीदेंगे। फिर उन्होंने अपना मोबाइल फ्लिपकार्ट पर फाइनली सेल के लिए लाया। उस टाइम Xiaomi ने फ़्लैश सेल को अपनाया। उस टाइम पहली बार फ्लिपकार्ट का सर्वर क्रैश हुआ था। लोगोने Xiaomi को इतना ज्यादा पसंद किया।

इसमें एक बात और की Xiaomi ने मार्केटिंग में एक रूपए भी खर्चा नहीं किया था। बाकी ब्रांड्स मार्केटिंग में करोडो रूपए खर्चा किया करते थे पर Xiaomi की मार्केटिंग पूरी वर्ड ऑफ़ माउथ से हुई। आपको इससे ये सीखने को मिलता है की आपको प्रोडक्ट यैसा बनाना है जो लोगो की प्रॉब्लम सोल्व करे। प्रोडक्ट अगर अच्छा है और आपके पास मार्केटिंग के पैसे नहीं है फिर भी शुरू में आपको वर्ड ऑफ़ माउथ से फायदा हो सकता है।

Xiaomi कैसे बनी इंडिया की नंबर 1 कंपनी

रेडमी २०१५ से २०१६ में काफी ज्यादा पॉपुलर कंपनी बनी। लोगो ने रेडमी के फ़ोन बहुत ज्यादा पसंद किये पर अभी भी Xiaomi भारत की नंबर १ कंपनी नहीं थी नंबर १ सैमसंग थी। बाद में रेडमी ने २०१७ में अपना रेडमी नोट ४ ये फ़ोन लांच किया ये फ़ोन ने भारत के मोबाइल मार्किट में तहलका मचा दिया। ये फ़ोन भारत में बहुत बिका उसके बाद रेडमी Q३ के आसपास इंडिया की नंबर १ कंपनी बन गयी। इसका सबसे बड़ा योगदान जाता है रेडमी के बिज़नेस मॉडल पर की टेक्नोलॉजी को कम किंमत में लोगो को देना।

Xiaomi के सफलता के कुछ कारण

इस कंपनी के सफलता के बहुत से कारण है। ये यैसी एक कंपनी है जिसने ऑनलाइन मार्किट को बड़ा किया है।

  • इस कंपनी के सफल होने का कारण है। इनका बिज़नेस मॉडल इन्होने इंडिया में सबसे ज्यादा ख़रीदे जाने बजट में फ़ोन लांच किया। इनके फ़ोन कम किंमत के साथ और अच्छे फ़ीचर्स के साथ लांच हुए इस लिए लोगो ने इन्हे पसंद किया।
  • ऑफलाइन स्टोर खोलना इनकी सफलता में ये भी बहुत बड़ा योगदान है। आज भी लोग फ़ोन ऑफलाइन दूकान में जाकर खरीदना पसंद करते है। इससे इनको ऑफलाइन से भी काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला।

Xiaomi कंपनी से हम क्या सिख सकते है

अब हम आखिर में बात करते है की आप Xiaomi से अपने बिज़नेस में क्या सिख सकते है। सबसे पहले आपको Xiaomi से पता चलता है आप बिज़नेस को छोटे लेवल से भी बड़ा कर सकते है। बहुत से लोगो लगता है की हमे बिज़नेस करने के लिए बहुत से पैसे लगते है। Xiaomi ने बहुत ही कम पैसो के साथ इंडिया में सुरुवात की। आपको हमेशा अपने प्रोडक्ट पर ध्यान देना है। मार्केटिंग भी जरुरी है पर अगर आपका प्रोडक्ट या सर्विस ही अच्छे नहीं है तो मार्केटिंग से आपको फायदा नहीं होगा।

Read More:

घर बैठे महिलाओं के लिए बिज़नेस आइडियाज

सिलाई का काम कैसे शुरू करें

ट्रेडिंग क्या है और कैसे शुरू करे

Leave a Comment